असम की आग से किसानों और प्राक्रतिक जनजीवन पर क्या असर डाला

असम की आग से किसानों और प्राक्रतिक जनजीवन पर क्या असर डाला -

जैसे कि आपको पता है असम इस समय तेल रिसाव के बाद शुरू हुई भीषण आग से जुझ रहा है।

असम में इस आग से 1.5 किलोमीटर क्षेत्र को राख बना दिया है ।
यह आग अब बुझने का नाम नही ले रही है ।इस आग की वजह से 7000 लोग बेघर हो चुके है । 35 घर पुरी तरह राख हो चुके हैं।
असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने गुरुवार को गुवाहाटी से करीब 550 किलोमीटर पूर्व तिनसुकिया जिले में ऑयल इंडिया लिमिटेड (OIL) के कुएं में प्राकृतिक गैस के रिसाव से बड़े पैमाने पर आग लगने की परिस्थितियों में उच्च स्तरीय जांच का आदेश दिया है। खैर, बगजान में 5 नंबर तेल के कुए से  पिछले 16 दिनों से गैस का रिसाव हो रहा था और मंगलवार दोपहर को आग लग गई।
तेल कुए की आग इतनी तीव्र है कि यह 30 किमी से अधिक की दूरी से दिखाई देती है।
बगजान में लगी आग से लाखों की फसल का भी नुकशान हुआ है ।
ताजा जानकारी के मुताबिक करीब 6 इंसान और कई जानवरों को चोट लगी है।

यह भी पढें -

उतर भारत के कई क्षेत्रों में ओलावृर्ष्टि को लेकर अलर्ट ।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां