भारत के कई राज्यों में खराब मौसम का अलर्ट जारी । किसानों को जारी हुई हिदायतें

Spread the love
  • 251
    Shares

Advertisement

खराब मौसम का अलर्ट

•मॉनसून की अक्षीय रेखा का पश्चिमी सिरा अपनी सामान्य स्थिति पर बना हुआ है जिसको एक कमजोर पश्चिमी विक्षोभ का साथ मिल रहा है और साथ ही केंद्रीय पाकिस्तान पर भी एक चक्रवाती परिसंचरण की उतपत्ति देखी गई है जो मैदानी इलाकों में अरब सागर से नमी भरी दक्षिण पश्चिमी हवाओ को भेज रहा है,

Advertisement

साथ ही बंगाल की खाड़ी से भी पूर्वा हवाएं मैदानी इलाकों का रूख कर रही है जिसके चलते पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश के साथ साथ दिल्ली एनसीआर के हिस्सों में मध्यम बारिश के दौर देखे गए, कुछ जगह भारी बरसात भी हुई।


पंजाब में सबसे ज्यादा हलवारा में 130 एमएम तो हरियाणा के करनाल में 97.2एमएम बरसात आज सुबह 8:30 बजे तक दर्ज की गई है।


उत्तर पश्चिमी राजस्थान के हिस्सों में भी सक्रीय बादलों के निर्माण के साथ बरसात हुई, शाम 5:30 बजे तक श्रीगंगानगर में 30 एमएम तो चूरू से 23एमएम बारिश के आंकड़े प्राप्त हुए है।

खराब मौसम का अलर्ट

खराब मौसम का अलर्ट

उत्तराखंड और उससे सटे हुए उत्तर-पश्चिम उत्तर प्रदेश, दिल्ली, उत्तर-पूर्व उत्तर प्रदेश, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम, असम और मेघालय, तटीय आंध्र प्रदेश और लक्षद्वीप क्षेत्र में दिखाई दे रहे है।

अगले 2-3 घंटों के दौरान इन क्षेत्रों में अलग-थलग स्थानों पर, मध्यम से अधिक तीव्रता की बारिश और गरज के साथ होने की संभावना है।

•वर्तमान मौसमी परिदृश्यों के चलते आज मध्यरात्रि से कल दोपहर के बीच पंजाब, हरियाणा,दिल्ली एनसीआर और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कई भागों में बादलो का निर्माण देखा जाएगा जिसके चलते उपरोक्त समय मे हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ जगहों पर भारी बारिश की गतिविधियां भी दर्ज की जा सकती है।

सम्भवतः आज की ही तरह कुछ इलाक़े सूखे भी रह सकते है। वहीं पश्चिमी राजस्थान में भी एक दो जगहों पर बारिश का दौर देखने को मिल सकता है।दिन चढ़ने के साथ बादलों की चाल फीकी पड़ेगी लेकिन तापमान में बढोतरी और उच्च आद्रता की मौजूदगी के कारण हरियाणा, राजस्थान, दिल्ली एनसीआर और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों में छिटपुट बादलों का विकास और तेज़ बारिश का झोंका दर्ज किया जा सकता है।

आज से कई स्थानों पर तापमान में गिरावट हुई है जिससे गर्मी से राहत है, कल भी बारिश वाले इलाको में तापमान कम ही रहेगा, जो इलाके बारिश से अछूते रह जायेगे वहां उमस भरी गर्मी बरकरार रहेगी जो मॉनसून में सामान्य तौर से रहती ही हैं।

Also read this आखिर कृषि अधिनियम 2020 से किसान क्युं नाराज हैं ?

खराब मौसम का अलर्ट

•अक्षीय रेखा के पूर्वी सिरा के सामान्य स्थिति से उत्तर में बने रहने के कारण बिहार,पूर्वी उत्तर प्रदेश में बारिश की स्थिति बदस्तूर जारी रहेगी जबकि पूर्वोत्तर में भारी बारिश से राहत बनी रहेगी हालांकि मध्यम बारिश का दौर यहां जारी रहेगा।

• झारखंड, ओडिसा और छत्तीसगढ़ व विदर्भ और मराठवाड़ा क्षेत्र में वज्रपात के साथ हल्की से मध्यम बारिश और तेज बारिश का झोंका दर्ज किया जा सकता है पर बड़े पैमाने पर बारिश की गतिविधयां नहीं होंगी।

•दक्षिण और पूर्वी राजस्थान सहित गुजरात मे भी उच्च आद्रता के कारण दोपहर के घँटों के बाद बादलो का विकास हो सकता है जिससे हल्की से मध्यम बारिश देखी जा सकती है, कुछ जगह बादल सक्रीय होंगे तो गरज चमक के साथ बारिश तीव्र रह सकती है।

•गोआ, कोंकण और पश्चिमी घाटों में मॉनसून की स्थिति में सुधार हुआ है और हल्की से मध्यम बारिश की सम्भावनाएं बनी हई है।

•तमिलनाडु, कर्नाटक,आंध्रप्रदेश और तेलंगाना में भी हल्की से मध्यम बारिश जारी रहेगी।

बता दें कि मौसम विभाग ने मध्य प्रदेश के 16 जिलों में जोरदार बारिश (Heavy Rain) के आसार जताए हैं।

मध्य प्रदेश के इंदौर, खंडवा, गुना, भिंड मुहैरा, सागर, दमोह रीवा समेत एक दर्जन से ज्यादा जिलों में मानसून सक्रिय नजर आ रहा है। यहां भी आईएमडी ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।

*देश के शेष भागों में मौसम शुष्क रहेगा।

Source IMD & Live weather of India

If You Like This information Follow us on

Facebook https://www.facebook.com/khetikare/

Instagram https://www.instagram.com/khetikare/?hl=en

Twitter https://twitter.com/KareKheti

खराब मौसम का अलर्ट


Spread the love
  • 251
    Shares

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *