आज मेरे देश का किसान बिकाऊ है ।

Spread the love
  • 118
    Shares

Advertisement

ट्रैक्टर ट्राली का सारा सामान बिकाऊ है ।
ट्रैक्टर ट्रॉली और सारा सामान बिकाऊ है ।
जमीन जायदाद और दुकान बिकाऊ है।
आओ टाटा आओ अम्बानी
खरीद लो
आज मेरे देश का किसान बिकाऊ है ।

Advertisement

क्या कीमत दोगे मेरे अरमानों की क्या कीमत दोगे मेरे सपनों की।
मेरी उम्मीदें,
मेरे सपने और
मेरे अरमान
बिकाऊ है ।

पुराने कपड़े फटी पगड़ी
पुराने कपड़े फटी पगड़ी ।
कर्जे के नीचे दबी मेरी जान बिकाऊ है ।

सर दादा छोटूराम के सपने को बेचकर खागये।
मेरे देश के लीडर बेईमान बिकाऊ है ।

खरीददारों जम के लगाओ बोली
खरीददारों जम लगाओ बोली
यहां हर इन्सान बिकाऊ है ।

कीमत बढ़गी दोस्तो कलम की।
हर अल्फाज ,हर जुबान बिकाऊ है ।

सुनता हो तो सर छोटूराम आकर देख लो
सुनता होता है सर छोटूराम आकर देखलो।
तेरे इन बेटो के हाड , मास और चाम बिकाऊ है।

रोज मरते हैं किसान कर्जे की मार से
रोज मरता है किसान कर्जे की मार से।
इस हत्या को आत्महत्या की कहानी बनाने वाले अखबार बिकाऊ हैं।

आज मेरे देश का किसान बिकाऊ है

पशु खरीदने को सरकार देगी 1 लाख 60 हजार रूपये । यहां करे आवेदन

If You Like This information Follow us on

Facebook https://www.facebook.com/khetikare/

Instagram https://www.instagram.com/khetikare/?hl=en

Twitter https://twitter.com/KareKheti



Spread the love
  • 118
    Shares

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *