Mushroom ki kheti – मशरूम की खेती की पुरी जानकारी

Spread the love
  • 299
    Shares

Advertisement

आजकल मशरूम की खेती ( mushroom ki kheti )सरकार द्वारा मिल रहे प्रोत्साहन एवं कौशल विकास के फलस्वरूप एक बड़े कृषि व्यवसाय का रूप ले लिया है। कम पूंजी कम जगह एवं कम समय में ज्यादा से ज्यादा कमाने की हसरतों ने आज मशरूम फार्मिंग को जन्म दिया । अब आप भी यदि घर बैठे मात्र कुछ पैसों की लागत से अपना खुद का मशरूम बिजनेस शुरू कर लाखों कमाना चाहते हैं तो मशरूम का व्यापार खास आपके लिए ही है । आज काफी लोग मशरूम की खेती कर लाखों कमा रहे हैं।

Advertisement

कुछ सावधानियां जो मशरूम की खेती ( mushroom ki kheti ) से पहले जानना जरूरी है

मशरूम की खेती Mushroom ki kheti से पहले एक उपयुक्त स्थान का चुनाव काफी महत्वपूर्ण होता है । मशरूम काफी नाजुक होती है इसलिए भंडारण से वितरण के बीच ज्यादा देर आपकी फसल को खराब कर सकती है । साथ ही मार्किट से ज्यादा दूरी आपकी कुल लागत को भी बढ़ा सकती है ।

Mushroom ki kheti

मशरूम की खेती ( mushroom ki kheti ) के लिए उपयुक्त तापमान व मौसम

मशरूम की खेती Mushroom ki kheti के लिए 35 से 40 डिग्री तक का तापमान अनुकूल माना जाता है । साथ ही मशरूम के विकास के लिए नमी की भी काफी आवश्यकता होती है । हवा में 85 से 90 प्रतिशत तक की आद्रता बनाए रखना एक चैलेंज हो सकता है ।

मशरूम की खेती ( mushroom ki kheti ) के उपयुक्त समय

मशरूम की खेती Mushroom ki kheti के लिए मई से अक्टूबर तक का समय बिल्कुल उपयुक्त समझा जाता है । हालांकि आवश्यक वातावरण एवं माहौल बनाकर अब 12 महीने इसकी खेती कर सकते हैं ।

मशरूम की खेती ( mushroom ki kheti ) के जरूरी क्षेत्र

शुरुआती चरण में यदि आप मशरूम की खेती Mushroom ki kheti छोटे लेवल पर करना चाहते हैं तो 400 स्क्वेयर फीट तक की जगह आपके लिए उपयुक्त रहेगी ।

मशरूम को उगाने की विधि

भारत में मशरूम की खेती Mushroom ki kheti के लिए मूलतः तीन तरह की क्यारियां बनाई जाती हैं । इसमें पहला है लटकाकर इसमें मशरूम के लिए कंपोस्ट का निर्माण कर प्लास्टिक बाद में कंपोस्ट के बीच में बीज की एक परत बना लें । ऊपर से कंपोस्ट की परत दर परत में बीज को रोक कर प्लास्टिक का मुंह धागे से बांध दें । किसी स्टार के सहारे कंपोस्ट को जलाकर रख दें । यह विधि खासकर उनके लिए काफी उपयुक्त है जबकि आपके पास जगह का अभाव हो ।

मशरूम उगाने की दूसरी विधि है । जमीन में क्यारियां बनाकर जमीन में क्यारियां बना कंपोस्ट को फैलाकर बीज को रोपा जाता है । समय समय पर सिंचाई एवं आवश्यक देखभाल के फलस्वरूप मशरूम की खेती की जाती है और मशरूम उगाने की तीसरी विधि है । बांस का पेड बनाकर । यदि आप जमीन में क्यारियां बना खेती नहीं करना चाहते तो फिर आप बांस का मचान बना सकते हैं बांस अथवा किसी लकड़ी की मदद से जमीन से थोड़ा ऊपर बांस का बेड अथवा मचान बना उस पर मशरूम के बीज बो सकते हैं । अब आपको जरूरत होगी मशरूम की खेती के लिए कम्पोस्ट की तैयारी करने की ।

मशरूम की खेती ( mushroom ki kheti ) के लिए कम्पोस्ट की तैयारी

मशरूम की खेती के लिए सबसे महत्वपूर्ण होती है कम्पोस्ट की तैयारी जिसमें बीजों को बोया जाता है । भारत में ज्यादातर कम्पोस्ट की तैयारी में पुराल का उपयोग किया जाता है । पुराल बाजार से काफी कम कीमत पर आसानी से खरीदा जा सकता है । अब बारी है पुराल को कंपोस्ट में बदलने की । शुरुआती दौर में 5 से 10 किलो तक पुराल से काम चल जाएगा ।

पुराल से कम्पोस्ट यानि खाद बनाने का तरीका

सबसे पहले भूसे को छोटे छोटे टुकड़ों में काट लें । ध्यान दें टुकड़ा न बहुत छोटा न बहुत बड़ा हो । आधा इंच का पुराल आदर्श माना जाता है । भूसे को किसी टब अथवा टंकी में पानी से भर रात भर के लिए फूलने के लिए छोड़ दें । ध्यान दें पुआल में कार्बोहाइड्रेट का टेस्ट बढ़ाने के लिए आप सोल्यूशन लिक्विड का भी प्रयोग कर सकते हैं जो कि आपके नजदीकी खाते भंडार से आसानी से प्राप्त किया जा सकता है ।

रात भर कम्पोस्ट को भिगोने के बाद अब इस कंपोस्ट को निकाल कर जमीन पर सूखने के लिए छोड़ दें । ध्यान दें । पुराल ज्यादा गीला ना ही ज्यादा सूखा रहे । दो से तीन घंटे बाद पुराल को हाथ से दबाकर चैक कर लें । यदि काफी दबाने पर थोड़ा पानी निकल रहा है तो ये कंपोस्ट आपके लिए आदर्श है । आप चाहें तो इसमें नाइट्रोजन एवं फास्फोरस कंटेंट बढ़ाने के लिए थोड़ा यूरिया का भी इस्तेमाल कर सकते हैं ।

मशरूम की बीजाई

बनाई गई क्यारियों में अब आप इस कंपोस्ट को फैला दें एवं थोड़ी थोड़ी दूरी पर मशरूम के बीजों को बो दें । अब दोबारा बीजों के ऊपर एक परत कंपोस्ट के लिए तथा बीज रोकते । इस प्रकार परत दर परत कंपोस्ट के बीच में बीज रोप कर कुछ दिन के लिए छोड़ दें । ध्यान रहे कमरे का तापमान 35 से 40 डिग्री तक बना रहे ।

मशरूम की सिंचाई

आवश्यक नमी बनाए रखने के लिए हर दो से तीन दिनों के अंतराल में पानी का छिड़काव करते रहें । मशरूम की फसल को कीट पतंगों एवं अन्य हानिकारक कीड़ों से बचाने के लिए कीटनाशक दवा का भी छिड़काव करें । ध्यान रहे कमरा बंद रहे एवं कमरे में किसी तरह की रोशनी न पहुंचने पाए ।

मशरूम की फसल तैयार में कितना समय लगता है

फसल होने में तीन से चार हफ्तों का वक्त लगता है । कोशिश करें । बीच बीच में आवश्यक नमी एवं कमरे का तापमान चैक करते रहें । शुरुआती दौर में 30 किलोग्राम भीगे पुराल से पांच किलो तक फ्रेश मशरूम उगाया जा सकता है ।

Also Read This इस दुध की कीमत है 7000 रूपये किलो,भारत में खुली पहली डेयरी

If You Like This information Follow us on

Facebook https://www.facebook.com/khetikare/

Instagram https://www.instagram.com/khetikare/?hl=en

Twitter https://twitter.com/KareKheti

मशरूम का भंडारण और बिक्री

मशरूम के भंडारण एवं वितरण में ज्यादा समय न लगाएं । आप प्लास्टिक में सौ ढाई सौ 500 ग्राम अथवा एक किलो का पैक बना । इसे या तो सीधा मार्केट में उतार दें अथवा किसी सब्जी वाले के हाथों अपनी फसल बेच दें । जरा इन बातों पर भी ध्यान दें । मशरूम के बीज को आवश्यक नमी पहुंचाने के लिए हर दो से तीन दिनों के बीच में पानी का छिड़काव करते रहें । रूम में साफ सफाई का विशेष ध्यान दें । कंपोस्ट को छूने अथवा मशरूम के बीजों के संपर्क से पहले हाथों को अच्छी तरह से साबुन से धोएं एवं कोशिश कर कमरे में जूते चप्पल इत्यादि पहन कर प्रवेश ना करें ।

मशरूम की खेती ( mushroom ki kheti )के लिए ट्रेनिंग कहां से लें

भारत में आप इन जगहों से मशरूम की खेती करना सीख सकते हैं । इंडियन एग्रीकल्चरल रिसर्च इंस्टिट्यूट डिपार्टमेंट ऑफ प्लांट पैथोलॉजी पूसा डेली प्राचीन एग्रीकल्चरल यूनिवर्सिटी पूसा समस्तीपुर बिहार । ओडिशा एग्रीकल्चरल यूनिवर्सिटी भुवनेश्वर ओडिशा हरियाणा एग्रो इंडस्ट्रियल कॉरपोरेशन आरएंडडी सेंटर मुरथल सोनीपत आईसीआर रिसर्च कॉम्पलेक्स और एच रीजन उम्र विरोध बुरा पानी मेघालय पारे के लिए उठाव मशीनों में सोच आईसीआर चंबाघाट सोलन हिमाचल प्रदेश । mushroom ki kheti

Suitable Temperature for mushroom farming

35 – 40 Degree Celcius

Maximum moisture mushroom farm can bear

85 – 90 percent

Best Time for mushroom farming

may to october , can be done all over the year but we have to make suitable weather condotions for it

How much time it take for mushroom crop

4 to 5 weeks


Spread the love
  • 299
    Shares

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *