अगर हुआ India USA EU समझौता , तबाह हो जाएगा Dairy Farmer

Spread the love
  • 331
    Shares

Advertisement

भारत के USA और EU से व्यापार समझौते देश के Dairy Farmer तबाह हो जाएगा – Rcep से हाथ पीछे खींचने के बाद भारत पर बड़ी अर्थव्यवस्थाएं जैसे USA और यूरोपियन यूनियन पर व्यापार समझौते करने के लिए दबाव बना रहे है। भारत के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी भी दबे स्वर में उन व्यापारिक समझौतों के पक्ष जता चुके हैं। पर देश के सामने इन समझौतों को रखने में देश की सरकार झिझक रही है। क्योंकि इससे दूध आधारित किसान व व्यापारी तबाह हो जाएंगे।

Advertisement

FSSAI Order- FSSAI का आदेश अब कचोरी बनाने वाले को फूड लाइसेन्स लेने के लिए Bsc Chemistry पास युवक को रखना होगा नोकरी पर,

पशुपालन जो देश के किसानो के लिए एक ATM का काम करता है। दूध के व्यापार से देश के लगभग सभी किसान जुड़े हुए व 40 प्रतिशत किसान तो सीधे तौर पर दूध बेच कर ही घर चलाते हैं। घर की महिलाओं द्वारा दूध से बने बाकी उत्पादों को बेच कुछ पैसा जुटा लिया जाता है। लेकिन अब सरकार विदेशी कंपनियों और USA European union के देशों को Free Access देने पर विचार कर रही है। पर विरोध के चलते अभी इसको पब्लिक डोमेन में नहीं लाया गया है। शायद बिहार इलेक्शन के तुरंत बाद इसपर कुछ फैसला लिया जाए।

Dairy Farmer
Dairy Farmer

वैसे तो इंडिया के इस व्यापार समझौते का असर कई जगह पड़ेगा पर डेयरी उत्पाद पर इसका ज्यादा नुकसान होगा।

इस व्यापार समझौते से क्या नुकसान है डेयरी किसान ( Dairy Farmer ) का

Free trade aggrement से विदेशी दूध कंपनियां भारत आएंगी और क्योंकि यूरोप में किसानो को बहुतायत में सब्सिडी मिलती है तो वो भारत में शुरुवात में कम दाम पर डेयरी उत्पाद उपलब्ध करा, भारत का लोकल किसान को ख़तम करदेंगे।
कृषि विशेषज्ञों का मानना है भारत में ज्यादातर किसान 1 या 2 गाय भैंस वाला होता है जो अपने आसपास दूध या दूध से बने उत्पाद बेच घर खर्च चलाता है वो बड़ी बड़ी बहुराष्ट्रीय कम्पनियों से मुकाबला नहीं कर पाएगा।

भारत के करोड़ों किसान खेती के साथ पशुपालन व डेयरी उद्योग पर निर्भर है । पशुपालन करने वाले 68 प्रतिशत किसान डेयरी पर आजिविकी के लिए निर्भर है। और Dairy Farmer उद्योग ज्यादातर unorganized तरीके से चलता है। डेयरी में ज्यादातर महिलाएं कार्यरत हैं।

कृषि विशेषज्ञों का मानना है कि इस डील के साइन होते ही किसानो की आमदनी आधी हो जाएगी।

If You Like This information Follow us on

Facebook https://www.facebook.com/khetikare/

Instagram https://www.instagram.com/khetikare/?hl=en

Twitter https://twitter.com/KareKheti


Spread the love
  • 331
    Shares

3 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *