नरेंद्र मोदी का पुतला ले भागे पुलिसकर्मी ,फिर भी किसानों ने किया पुतला दहन

Spread the love
  • 1.3K
    Shares

Advertisement

पुलिस बल सारी कोशिशों को नाकाम करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला फूकने में कामयाब हुए किसान –

Advertisement

कृषि कानूनों के विरोध में भारतीय किसान यूनियन ने दशहरे के दिन पीएम मोदी का पुतला जलाने का आह्वाहन किया था । जिसके चलते प्रदेश के सभी जिलों में प्रशासन ने पहले से ही सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम कर लिए । जगह जगह पुलिस बल तैनात किया गया लेकिन इसके बाद भी किसान अपना विरोध जताने में कामयाब हुए ।

वहीं पानीपत में इस पुतला दहन में अजीब वाकिया हुआ। पानीपत शहर में हो रहे प्रदर्शन को पानीपत जिले के डीएसपी ने रुकवा दिया। और चालाकी के साथ पुलिस अधिकारी मोदी का पुतला लेकर भाग गए।

कुरुक्षेत्र के शाहबाद में भाकियू कार्यकर्ताओं ने सीएम के राजनीतिक सचिव कृष्ण बेदी के घर के बाहर पीएम का पुतला फूंक दिया तो वहीं यमुनानगर के टोकरा कलां में भी भाकियू कार्यकर्ताओं ने पीएम मोदी का पुतला फूंक कर कृषि कानूनों के प्रति नाराजगी जताई । उधर प्रदेश भर में किसानों को प्रदर्शन करने से रोकने के लिए पुलिस बल तैनात की गई । कई किसान नेताओं को गिरफ्तार कर लिया गया जिसकी जानकारी खुद भाकियू प्रदेशाध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी ने दी ।

नरेंद्र मोदी का पुतला
नरेंद्र मोदी का पुतला

गुरनाम सिंह चढ़ुनी ने वीडियो जारी कर कहा ” साथियों आज त्योहार का दिन है और हमने ऐलान किया था कि ये दशहरे पर रावण की जगह मोदी के पुतले जलाए जाएंगे और बहुत अच्छी तैयारी लोगों ने की हुई थी हमने जिला व जिला जिलावार पुतले जलाने का प्रोग्राम बनाया था लेकिन उसने सुबह से रेड करने शुरू कर दी है हमारे कई कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया है और कइयों के पीछे पुलिस लगी हुई है मेरे पास भी गिरफ्तार करने के लिए आए थे लेकिन अभी तक गिरफ्तार हो नहीं पाया, हो सकता कुछ देर में मुझे भी गिरफ्तार कर लिया जाए लेकिन हमने ईंट का जवाब पत्थर से देना है ।

Kisan andolan का हुआ असर 40 हजार करोड के व्यापारिक घाटे का अनुमान, #AmbaniAdaniGoBack हो रहा Trend

मैं सभी भाइयों से सभी जनता से अपील करना चाहूंगा कि ये लोकतंत्र में सबको अधिकार है अपना रोष प्रदर्शन करने का । उस के वो भी हमें नहीं करने देते हैं तो मेरा सबसे अनुरोध है कि हर गांव में मोदी का पुतला फूंका । गांव गांव मोदी का पुतला फूंके । आप लोग वीडियो वायरल करो ताकि ज्यादा से ज्यादा रोष प्रदर्शन और जनता के सामने भी जाए और वो सरकार को भी किसान की ताकत का पता चले । बस मेरी इतनी ही अपील है कि अगर जिलों में ये पुतले फूंकना नहीं देते तो सभी भाई गांव गांव में पुतले फूंके ।”

किसान यूनियनों ने पहले ही ऐलान किया था कि किसान जिलास्तर पर पीएम मोदी का पुतला फूंककर अपना विरोध दर्ज कराएंगे । जिसे रोकने के लिए पुलिस ने पूरी कोशिश तो की लेकिन फिर भी किसान कई जगहों पर पुतला फूंकते दिखाई दिए । रादौर के टोकरा कला गांव के अशोका पार्क में भी कुछ इसी तरह की तस्वीरे देखने को मिली । पानीपत में भी किसान मोदी सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करते दिखाई दिए जिसे रोकने के लिए पुलिस ने काफी मेहनत की । एक किसान ने कहा कि वैसे तो विजयदशमी का दिन है आज । लेकिन ये जो अहंकारी रावण हमारा मोदी है ये किसानों की जमीन को हरना चाह रहा है।

नरेंद्र मोदी का पुतला – आज प्रशासन ने पूरा प्रबंध किया है कि किसान किसी भी तरह शहर के सचिवालय पर न पहुंच सके । लेकिन हम प्रशासन को बताना चाहते हैं गांव हमारे हैं । हम अपने गाँव में उनके पुतले फूंके गए और गाँव में पुतला फूंका जाएगा।

दशहरे के दिन किसानों के विरोध को देखते हुए पुलिस प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद दिखाई दिया । कई जगहों पर किसानों को हिरासत में लिया गया । लेकिन फिर भी किसान पुलिस को चकमा देकर पुतला फूंकने में कामयाब होते दिखाई दिए । नरेंद्र मोदी का पुतला

अब किसान यूनियन पुतला दहन के बाद 29 अक्टूबर को पूरे हरियाणा के किसानों से अंबाला के मुखड़ा में इकट्ठा होने की अपील कर रहे हैं । जहां किसानों पर 302 के दर्ज मामले वापस लिए जाने और अध्यादेश वापस लिए जाने की मांग की जाएगी । देखना होगा पुलिस प्रशासन क्या अंबाला में भी इसी तरह से किसानों को प्रदर्शन करने से रोकने की कोशिश करेगी या नहीं ।

नरेंद्र मोदी का पुतला नरेंद्र मोदी का पुतला नरेंद्र मोदी का पुतला नरेंद्र मोदी का पुतला

If You Like This information Follow us on

Facebook https://www.facebook.com/khetikare/

Instagram https://www.instagram.com/khetikare/?hl=en

Twitter https://twitter.com/KareKheti


Spread the love
  • 1.3K
    Shares

One Comment

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *