उत्‍तर प्रदेश के केवल 6 जिले के गन्ना किसानों को हुआ 3.27 अरब रूपए का नुकसान

Spread the love

Advertisement

उत्‍तर प्रदेश के केवल 6 जिले के गन्ना किसानों को हुआ 3.27 अरब रूपए का नुकसान , उत्‍तर प्रदेश के गोरखपुर और कुशीनगर समेत छह जिलों में गन्ने के कैंसर से किसानों को 3.27 अरब रूपए का नुक़सान हुआ है। इन छह जिलों के 50000 किसानों की 105 लाख क्विंटल गन्ना की फसल सुख गई है। कुशीनगर जिले में सबसे ज्यादा 9330 हेक्टेयर गन्ने का रकबा सूखा है। पिछले 6 महीने से खेतों में खड़ा पानी ही इस गन्ने के कैंसर की वजह बताई जा रही है।

Advertisement

आपको बता दे कि पिछले 6 महीनों में कुशीनगर, देवरिया, महराजगंज, सिद्धार्थनगर, बस्ती व संत कबीरनगर जिलों में लगातार बारिश हुई जिसकी वजह से करीब 50 हज़ार किसानों का इतना भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है। इस भारी बारिश की वजह से कुल 13703 हेक्टेयर गन्ने का रकबा सूख गया है। इसमें सबसे ज्यादा रकबा कुशीनगर जिले का है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेश पर सितंबर महीने में हुऐ सर्वे के बाद ये चौकाने वाले आंकड़े सामने आए हैं। कुशीनगर के किसान श्यामलाल यादव ने बताया कि उनके आधा हेक्टेयर गन्ने के खेत में कुल केवल 5 क्विंटल गन्ना निकला है। बाकी सारा गन्ना सूख चुका है। खेत को खाली करने में मजदूरी का खर्च भी घर से देना पड़ रहा है।

Agri Update 2020: इस तकनीक से पैदा होंगी केवल बछड़ी / कटड़ी

उत्‍तर प्रदेश
उत्‍तर प्रदेश

सामान्य से 600 MM अधिक हुई बरसात – उत्‍तर प्रदेश

आपको बता दे कि मार्च महीने से लेकर अगस्त तक लगातार छह महीने तक उत्तर प्रदेश में काफी बरसात हुई, जिससे गन्ने के खेतों में पानी जमा होगया। गन्ने की फसल के लिए बुआई से लेकर कटाई तक केवल 900 से 1000 MM बारिश की आवश्यकता पड़ती है। लेकिन लगातार बारिश की ने ये आंकड़ा 1600 MM तक पानी खेतों में पहुंच गया, जो गन्ने की क्षमता से बहुत ज्यादा है। इसका नुकसान गन्ना किसानों का उठाना पड़ा है।

If You Like This information Follow us on

Facebook https://www.facebook.com/khetikare/

Instagram https://www.instagram.com/khetikare/?hl=en

Twitter https://twitter.com/KareKheti


Spread the love

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *