Media की गलत रिपोर्टिंग से परेशान किसानों ने “Trolley Times” नाम से लॉन्च की अपनी पत्रिका

Spread the love

Advertisement

Media की गलत रिपोर्टिंग से परेशान किसानों ने “Trolley Times” नाम से लॉन्च की अपनी पत्रिका , देश भर के ज्यादातर आन्दोलन भड़काऊ मीडिया अथवा गोदी मीडिया की खराब रिपोर्टिंग से ख़तम हो जा रहे हैं। जो भी आंदोलन होता है उसमे आंदोलन के मुद्दे की बजाए मीडिया आंदोलन करने वाले लोगो की जात , धर्म , उसके व्यवसाय में बाट उनको बदनाम कर आंदोलन को खराब कर दिया जाता है।

Advertisement

पिछले दिनों सरकारी भरतियों में हुए घोटाले के विरुद्ध जब छात्र SSC building के बाहर इक्कठा हुए तो उन्हे Urban Naxal कहकर बदनाम कर उनके आंदोलन को जनसमर्थन से दूर कर दिया। आखिर में वो बच्चे बेरोजगार कुछ पुलिस की लाठियों का शिकार हुए कुछ समाज की गालियो के।

Trolley Times
Trolley Times

फिलहाल देश में चल रहा किसान आंदोलन इस गोदी मीडिया से टक्कर लेने के लिए दिनों दिन नए प्रयास कर रहा है। आंदोलन कर रहे किसानो ने अब नई पत्रिका लॉन्च करने का फैसला लिया है । किसानो का कहना है कि मीडिया आए दिन कुछ ना कुछ ग़लत खबर प्रचारित कर देती है ,जिससे आंदोलन कमजोर हो सकता है । इसलिए किसानों ने अपनी पत्रिका जिसका नाम Trolley Times रखा गया है लॉन्च किया है । आंदोलन से जुड़ी सारी पुख्ता जानकारी किसान इस पत्रिका के माध्यम से दी जाएगी ।

Trolley Times के बारे में जानकारी लेखक बीर सिंह ने सींघू बॉर्डर स्टेज पर अपने वक्तव्य के दौरान दी।

Trolley Times

किसान आन्दोलन के बीच PM Kisan Samman Yojana में सामने आया इतना बड़ा घोटाला

If You Like This information Follow us on

Facebook https://www.facebook.com/khetikare/

Instagram https://www.instagram.com/khetikare/?hl=en

Twitter https://twitter.com/KareKheti


Spread the love

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *